बरवत प्रसराईन पचांयत, प0 चम्पारण, जिला- मुखयालय से पूरब दक्षिण के कोण बेतिया प्रखण्ड के मध्य भाग में स्थित है। प्रखण्ड मुखयालय से इसकी दूरी 5 कमी और जिला मुखयालस से इसकी दूरी 5 किमी है। पंचायत की कुल आबादी 11000 है जिसमें पुरूष लगभग 6000 तथा महिलाओं की संखया 5000 है।

बरवत प्रसराईन पचांयत, प0 चम्पारण, जिला- मुखयालय से पूरब दक्षिण के कोण बेतिया प्रखण्ड के मध्य भाग में स्थित है। प्रखण्ड मुखयालय से इसकी दूरी 5 कमी और जिला मुखयालस से इसकी दूरी 5 किमी है। पंचायत की कुल आबादी 11000 है जिसमें पुरूष लगभग 6000 तथा महिलाओं की संखया 5000 है।

बरवत प्रसराईन पचांयत, प0 चम्पारण, जिला- मुखयालय से पूरब दक्षिण के कोण बेतिया प्रखण्ड के मध्य भाग में स्थित है। प्रखण्ड मुखयालय से इसकी दूरी 5 कमी और जिला मुखयालस से इसकी दूरी 5 किमी है। पंचायत की कुल आबादी 11000 है जिसमें पुरूष लगभग 6000 तथा महिलाओं की संखया 5000 है।

 

इतिहास

बरवत प्रसराईन पचांयत, प0 चम्पारण, जिला- मुखयालय से पूरब दक्षिण के कोण बेतिया प्रखण्ड के मध्य भाग में स्थित है। प्रखण्ड मुखयालय से इसकी दूरी 5 कमी और जिला मुखयालस से इसकी दूरी 5 किमी है। पंचायत की कुल आबादी 11000 है जिसमें पुरूष लगभग 6000 तथा महिलाओं की संखया 5000 है। पंचायत में छोटे बडे़ कुल 9 टोले है। पंचायत के अन्तर तरफ गोनौली पंचायत दक्षिण बरवत सेना पूरब-बरवत सेना तथा पश्चिम में पूर्वी करगहिया है।

ऐतिहासिक रूप से हमारे पंचायत के अंतर्गत हवाई-अड्‌डा बरवत प्रसराईन ग्राम में ही है। सदियों से इस हवाई अड्‌डे पर देश-विदेश के राष्ट्रीय स्तर के नेता वो राजनेताओं का यहाँ आगमन होता है। इस समय पंचायत के महिला-पुरूष, बालक/बालिका हवाई जहाज हेली कैप्टर को देखेने आते हैं। हमारे पंचायत का पश्चिम दक्षिण का हिस्सा जमीन बेतिया महराज की है, जिसमें बेतिया राज का आज भी भुसा धारी वो खेती की जमीन है। जिसे यहाँ के जमींदार लोगों को लीज पर दी गयी है। जबकि यहां के धांगड़/मुसहर जाति के लोग आज भी भूमिहीन है जिसकी जिविकापॉर्जन मजदूरी है।

पंचायत अंतर्गत बरवत पसराईन में कृषि अनुंसधान केन्द्र बरवत प्रसराईन पंचायत में अवस्थित है। यहाँ किसानों को नई तकनीक द्वारा कम खर्च में ज्यादा पैदावार कैसे किया जाय इसकी जानकारी कृषि वैज्ञानिकों द्वारा वो प्रशिक्षण के माध्यम से दी जाती है।